अल्लाह कौन है और क्यो quran is important

कुरान में अल्लाह कौन है? Who is Allah in the Quran इस्लाम धर्म में कुरान शरीफ  ऐसी  किताब है जो उनकी रहनुमाई करती जो खुदा का सही रास्ता बन्दों को बताती है !

इस्लाम के अनुसार कुरान ये गवाही देता है की “अल्लाह के अलावा कोई भगवान नहीं है” अल्लाह ने 6 दिनों में दुनिया को बनाया है दुनिया में जितने भी लोग है वो सब आदम की औलाद है नुह,मूसा,ईसा मसीह, और मुहम्मद सब पैगम्बर है जो जिनको messenger of god कहा जाता है जिन सब खुदा ने दुनिया में भेज ताकि वो लोगो को सही राह पर चला सके!

अल्लाह कौन है और क्यों Quran is important
अल्लाह कौन है और क्यों Quran is important

Spiritual treatment all problem in Hindi

Sad no solutions problem treatment only spiritual

कुरान किसने लिखा है?

जितने भी पैगम्बर दुनिया में आये सब उस खुदा इबादत करने को कहा है मूर्ति पूजा और बहुत खुदा होने का विरोध किया है !

कुछ लोगो islam धर्म को नहीं जानते वो अक्सर ये सवाल करते है की ये अल्लाह कौन है जिस जिक्र कुरान में आता है कुछ लोगो जो दुसरे धर्मो को मानते है वो ये सोचते है  मुसलमानों के खुदा कोई और नहीं है बल्कि मुह्हमद है जो बिलकुल गलत है

Islam शब्द की meaning है प्रस्तुत करना ! Islam कहता है पूरी दुनिया उसने बनाई है

 अल्लाह कौन है उसका नाम और उसके बारे सोच

अल्लाह का नाम सबसे बड़ा है इसे बईबाल में याह्वे के नाम से भी जाना जाता है! अल्लाह कोई कई नाम से पुकारा जाता है कुरान में अल्लाह के 99 नाम आये है!

जिसके बारे में कहा जाता वो हमेशा था और हमेशा रहेगा !

ना उसकी कोई बीवी है ना कोई उसकी औलाद ही है ! उसने सब बनाया है उस लिफज़े से वो सबका बनाने वाले पिता के रूप आप उसको देख सकते है

पर अपने आपको या किसी को उसकी औलाद कह कर उसकी पूजा या इबादत करना सही नहीं है!

मुसलामन लोग बिस्मिलाह हिर्रमान निर्रहीम पड़ते है जिसका अर्थ है अल्लाह का नाम बहुत मुबारक है वो बहुत दयालु है रहम करने वाला है!

अल्लाह हम सब का मालिक है और वोही क़यामत में हम सबका मालिक है और उस दिन वो हमारे साथ इन्साफ करेगा!

जिससे नेकी और अच्छे काम किये होगे उसका अल्लाह खुशखबरी सूना देगे और हमेशा जन्नत में रहेगा और जिसने दुनिया में बुरे काम करेगे उनको नरक में डालेगे जिसमे वो हमेशा जलते और तडपते रहेगे!

मुसलमान खुदा को इंसान के रूप देखने की बात नहीं करते है है पर कुरआन में लिखा खुदा इन्साफ के दिन जब लोगो का फैसला हो जाएगा जन्नती उस खुदा को देख सकेगा!

मुसलमान मना है खुदा की मर्ज़ी के बिना एक पत्ता भी नहीं हिलता है! इसलिए जब कोई काम मुसलमान का बन जाता है

वो अल-ह्मदुली–लाह कहते है यानी अल्लाह का शुकिया कहता है मुसलमान का माना है अल्लाह से बड़ा कुछ नहीं है अल्लाह सबसे बड़ा है!

अल्लाह कौन है बाइबिल क्या कहता है

आमतौर पर अल्लाह अरबी भाषा का word है अल-इलाह जिससे खुदा कहते है सभी मुस्लिम और ईसाई इस बात को मानते है

वे एक भगवान् में believe करते है इसलिए बाइबल और कुरआन में बहुत बाते सामान मिलती है!

कुरान में लिखा है हर इंसान और दुनिया की हर चीज़ को खुदा ने बनाया है बाइबल भी इस बात को स्वीकार करता की खुदा ने हर चीज़ को पैदा किया है

बस ईसाई और मुसलमान में सबसे बड़ा अंतर उनकी इस सोच का है जिसमे ईसाई लोगो ईसा मसीह को भगवान् मान कर उसकी पुजा और उससे pery करते है!

जबकि मुसलमान भी ईसा मसीह को मानते है पर वो उनको भी खुदा के पैगम्बर यानी messenger of god  के रूप देखते है!

Leave a Comment